ALL अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रदेश खेल मनोरंजन
एक्ट्रेस कविता घाई ने अपने फैन्स से रिवील किया अपना परफ्यूम क्रेज़ !
April 18, 2020 • NELESH SHAIVE • मनोरंजन

एक्ट्रेस कविता घाई ने अपने फैन्स से रिवील किया अपना परफ्यूम क्रेज़ !

कोविड -19 के संक्रमण से बचने के लिए सरकार ने सभी देशवासियों को लॉकडाउन का पालन करने के निर्देश दिए हैं। इसी कड़ी में इसका पालन करते हुए इन दिनों सभी फिल्म और टीवी कलाकार अपने-अपने घरों में कुछ न कुछ अलग करके अपना क्वारेंटाइन टाइम बीता रहे हैं। 'कार्तिक पूर्णिमा' शो में सोनी मेहरा का किरदार निभा रही एक्ट्रेस  कविता घाई ने इस क्वारेंटाइन टाइम में अपने फैन्स से अपना परफ्यूम क्रेज़ साँझा किया है, जानिए ।

एक्ट्रेस कविता है बताती हैं कि मुझे शुरू से परफ्यूम और इतर का क्रेज है। इस बात को कुल 5 साल हो गए हैं। पहले मैं नार्मल परफ्यूम इस्तेमाल करती थी। फिर एक बार जब मैं दुबई गई थी तो वहाँ मैंने वहां के मॉल में इतर की शॉप देखी। वहां यह पता चला उनका परफ्यूम लम्बे समय तक क्यों चलता है क्युकि उनके इतर में ऑइल बेस ज्यादा स्ट्रांग होता है, जिससे आपका परफ्यूम लम्बे समय तक टिका रहता है। फिर मैंने खुद ट्राई करना शुरू किया। कई परफ्यूम तो इतने स्ट्रांग होते हैं जो जिनकी महक कपड़े धुलने के बाद ही जाती है। उन्होने बताया कि कुछ परफ्यूम वो लोग भारत से भी एक्सपोर्ट करते हैं। फिर जब मैं वापस आई तो मैंने पुरानी दिल्ली में जाकर खूब होमवर्क किया कि किस चीज को कितनी मात्रा में डालने से इतर लम्बे समय तक टिकता है, उनके साथ घंटों बैठी रही। मुंबई शूटिंग के चलते समय कम होता था फिरभी समय निकालकर मैंने  मुंबई की इतर की गलियों दौरा किया, जिसके बाद मैंने दो से तीन बॉटल की परफ्यूम को मिलाकर एक अलग महक वाला परफ्यूम बनाया।

मुझे आज भी याद है मुझे एक शो के सेट पर मौजूद क्रू के लोग कहा करते थे कि मैम आप अभी यहाँ से गुजरी थीं न क्युकि जहाँ से आप निकलती हैं वहां आपके परफ्यूम की महक रह जाती है । सेट पर मेरे को स्टार्स को मेरा परफ्यूम बहुत पसंद आता था तो मैं सभी को एक बॉटल में बनाकर दिया करती थी। उसके बाद लोग हर पार्टी हर जगह  मुझसे इस इतर की डिमांड करते गए और यह भी कहा कि इसे परफ्यूम फॉर्म में बनाएं क्युकि इतर लगाने में आलस आता है, जिसके बाद मैंने अपने हस्बैंड से कहकर एक स्पेशल बॉक्स और बॉटल्स डिज़ाइन करवाया और अपनी पहली परफ्यूम नाम 'इदाना' रखा और इसे सेल करना शुरू किया।

परफ्यूम को बनाने में मुझे तक़रीबन मुझे 2 साल लगें इसपर बहुत रिसर्च लगी। पहले मैं नया परफ्यूम बनाकर अपने घर में सबको ट्राई कराती थी, जिसको जो चीज़ ज्यादा बेहतर लगी इन सभी चीजों को पूरा करके मैंने अपना दूसरा परफ्यूम 'हीर' बनाया है। इसका प्रिंट, लोगो और बॉक्स पर बहुत काम किया है इसकी महक इदाना से सोफ्ट है उम्मीद है यह भी मेरे  लोगों को खूब पसंद आएगी।

ऐसे में यह तो तय हो गया कि कविता को परफ्यूम का कितना क्रेज़ है ।